भोपाल स्मार्ट सिटी सभी चर्चाएँ के तहत

वापस

इंटेलिजेंट ट्रैफिक मेनेजमेंट सिस्टम

 

भोपाल स्मार्ट सिटी डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड (बी.एस.सी.डी.सी.एल.) ने यातायात पुलिस के साथ मिलकर इंटेलिजेंट ट्रैफिक मेनेजमेंट सिस्टम परियोजना शुरू की है। इस योजना के तहत, इंटेलिजेन्ट ट्रान्सपोर्ट सिस्टम परियोजना को भी स्थापित किया गया है जिसके तहत ट्रैफिक लाईट का उल्लंघन, तेज गति होने पर वाहन की पहचान, बिना हेलमेट पहने हुए वाहन चालक की पहचान और ट्रिपल सवारी का पता लगाने के लिए इस परियोजना को स्थापित किया गया है। इस योजना में ट्रैफिक सिग्नल, सर्विलांस कैमरा और एनफोर्समेंट कैमरा की व्यवस्था है। आई.टी.एम.एस. सेवाओं में भोपाल शहर के भीतर ट्रैफिक मैनेजमेंट और सड़क सुरक्षा के चार प्रमुख बिन्दुओ को शामिल किया गया है।


1. ट्रैफिक का उल्लंघन करने वाले, ट्रैफिक लॉ इनफोर्समेंट और ट्रैफिक के नियम के बारे में लोगो को जागरूक करने की भावना विकसित की है
2. आई.टी.एम.एस. ट्रैफिक संबंधि रियल टाईम डेटा एकत्र का भविष्य में ट्रैफिक को लेकर बनने वाली नितियो में काम आयेगा, आई.टी.एम.एस. से प्राप्त ऐतिहासिक डेटा से नीतियाँ  बनाने में आसानी होगी। 
3. आई.टी.एम.एस. आपातकालीन संदेष संप्रेषण के लिए उपयुक्त माध्यम प्रदान करता है। संदेष संप्रेषण के लिए पब्लिक ऐड्स  सिस्टम, बिल वोर्ड इत्यादि का प्रयोग किया जाता है। 
4. ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने वाले लोगों को ई-चालान के द्वारा ट्रैफिक उल्लंघन की सूचना देने का प्रावधान एस.एम.एस. एवं एम.पी. आनलाईन पेार्टल के माध्यम से किया गया  है।

हम आपको शहर के अन्दर ट्रैफिक की स्थिति में सुधार के लिए आपके विचारों और प्रतिक्रिया तरीकों को साझा करने का अनुरोध करते हैं और उन क्षेत्रों को सुझाव देने में हमारी सहायता करते हैं जहां लाल बत्ती उल्लंघन और यातायात संकेत, गति पहचान पर वाहन, हेलमेट पहचान और ट्रिपल सवारी पहचान व्यवस्था स्थापित की जानी चाहिए।

टिप्पणियाँ
टिप्पणी पोस्ट करने के लिए पहले लॉगिन करें
साइन इन
This app give us the facility to save our time on a single click, its a great move by the Government and by Bhopal Smart City. I like the app
+2 (2 वोट्स)
This is a great initiative, this will definitely improve the traffic management as well as people's mindset towards traffic discipline
+2 (2 वोट्स)
It is a great initiative
+1 (1 वोट)
It's very good initiative and It is spreading awareness towards traffic control. Now a days I am seeing there are less no. Of violators and the public is getting aware. It is very effective..
+1 (1 वोट)
dheer singh
Score: 0
Good Luck Smart city Bhopal.
This feature will help for citizen of bhopal for travelling in peak hours.
+1 (1 वोट)
Bhopal Dev
Score: 0
Good initiative
+1 (1 वोट)
Amazing initiative!

One thing I'd like to suggest is to use Smart Traffic Lights or Manually Controlled Traffic Lights.

You see, at high traffic areas like Jyoti Cineplex Square, there are times when there is a huge amount of traffic in a single direction, but less in other directions. But both directions get only 20 seconds to pass through. This system should make sure that when there is huge amount of traffic in one direction, the traffic should get more than 20 seconds (sufficient time) to pass. And when there is less traffic, it should give less than 20 seconds to pass. This will prevent wastage of time, and make roads more efficient and traffic free. Sensors or human observation can be used to analyse traffic conditions.

Removing the timer which shows how many seconds one has to stop will also be helpful, as people always cross 5-10 seconds before green light. In its absence, they'll have to wait till the light is green.
+3 (3 वोट्स)
Brts me vahan chalane walo par koi action nahi hota
0 (0 वोट्स)
Atleast 70% people of Bhopal especially bikers didn't fallow traffic rules.penalty must imposed for breaking signals and rash driving
0 (0 वोट्स)
Dear user,
Arrangement has been made to send e-challan to those who marked as violating the traffic rules.
+1 (1 वोट)
Thank you for providing your valuable suggestions/inputs! Your views and suggestions have been recorded.
+1 (1 वोट)
Helmet should be compulsory and on two wheeler only 2 people. Strict fine for those violating the law.
0 (0 वोट्स)
Rajeev Tiwari
Score: 0
Ye halat hi bhopal ke 11 no. iswar nagar ki. Safai me to bhopal last me bhi nhi hona chahiye. Road to registan ki banai gayi hi. Balki indore ko MP ki rajdhani honi chahiye. Foregners ate hi yaha aur india ko kitna ganda bol ke jate hi. Mujhe sharm ati hi ki india jise sone ki chidiya kaha jata tha uska aaj aisa hal hi
0 (0 वोट्स)